JagranMP
JagranMP ePaper
www.jagranmp.com :: 29 March, 2017
शहर विशेष
भोपाल
500 में कनेक्शन लें और पाएं 24 घंटे पानी की गारंटी
भोपाल , लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग (पीएचई) हैैंडपम्प बंद करके नल-जल योजना को पूरे प्रदेश में लागू करने जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत ग्रामीणों को 500 रुपए में कनेक्शन देकर हर दिन 24 घंटे पेयजल सप्लाई करने का दावा कर रहा है। प्रदेश के हर गांव में 24 घंटे पानी देने के लिए पीएचई को 3000 करोड़ रुपए की दरकार है। पीएचई ने इतनी बड़ी राशि जुटाने के लिए प्रयास भी तेज कर दिए है। प्रथम चरण में 15000 गांव को लिया गया है। पीएचई अभी तक इंदौर-उज्जैन संभाग के छह गांवों में इसे क्रियान्वित कर रहा है।
एक्सपर्ट कमेटी की रिपोर्ट के बाद होगा सेंचुरियों से रेत उत्खनन
भोपाल , सोन और चंबल घडिय़ाल सेंचुरी में स्थानीय लोगों को रेत खनन का फैसला अब एक्सपर्ट कमेटी की रिपोर्ट के बाद होगा। राज्य वन्य प्राणी संरक्षण बोर्ड के सदस्यों के विरोध के चलते केन-बेतवा परियोजना को भी क्लीयरेंस नहीं मिल सकी। इस परियोजना में पन्ना नेशनल पार्क की लगभग 50 वर्ग किमी का बफर जोन और कोर एरिया प्रभावित हो रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में वल्लभ भवन में राज्य वन्य प्राणी संरक्षण बोर्ड की बैठक हुई। बैठक में सोन घडिय़ाल और चंबल घडिय़ाल सेंचुरी के पास रह रहे ग्रामीणों को रोजगार उपलब्ध कराने की मंशा से रेत खनन के प्रस्ताव सदस्यों के विरोध के चलते कोई निर्णय नहीं हो सका।
मास्टर प्लान में शामिल होंगे झीलों और नदियों के शरहद
भोपाल, जल स्रोतों को संरक्षित करने, बढ़ते जल प्रदूषण को रोकने के लिए अब मास्टर प्लान में झीलों और नदियों के संरक्षण को भी शामिल किया जा रहा है। इसमें बड़े तालाब और नर्मदा सहित आठ झीलों और नदियों को शामिल किया गया है। बड़े तालाब के कैचमेंट एरिया के तीन सौ मीटर की परिधि में कोई भी निर्माण कार्य नहीं होंगे। टाउन एंड कंट्री प्लानिंग (टीएनसीपी) मास्टर प्लान में ग्रीन वेस्ट लैंड का प्रावधान रखा जाता है उसी प्रकार से नदियों और झीलों के कैचमेंट एरिया में निर्धारित निर्माण कार्य नहीं होंगे।
सांची विवि शुरू करेगा पीएचडी और ऑनलाइन कोर्स
भोपाल (निप्र)। सांची बौद्ध भारतीय ज्ञान अध्ययन विश्वविद्यालय की विद्या परिषद ने कई अहम प्रस्ताव मंजूर किए हैं। सोमवार को सांची विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर डॉ शशिप्रभा कुमार की अध्यक्षता में विद्या परिषद की बैठक में नए ऑनलाइन कोर्स शुरू करने और जुलाई 2016 से पीएचडी आरंभ करने के प्रस्ताव मंजूर किए गए। सांची विश्वविद्यालय के वैकल्पिक शिक्षा केंद्र की गतिविधियों को विस्तार देने और भारतीय, तिब्बती और यूनानी के साथ एलोपैथिक चिकित्सा को मिलाकर सेंटर ऑफ इंटीग्रेटेड हीलिंग खड़ा करने पर भी बैठक में फैसला हुआ।
मासूम बेटे के सामने जेल में जहर खाने से महिला की मौत
पति की हत्या के आरोप में सलाखों के पीछे पहुंची महिला की जहर खाने से मौत हो गई है। महिला ने जिस वक्त जहर खाया था, उस वक्त उसके साथ उसका डेढ़ साल मासूम बेटा भी था। महिला की मौत की न्यायिक जांच आदेश जारी कर दिए है। आदेश होने के साथ मामले की जांच भी शुरू हो गई है। मौत ने जेल प्रबंधन की कार्यप्रणाली पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। यह सनसनीखेज घटना भोपाल केंद्रीय जेल में सोमवार शाम की है। मामले में गांधी नगर पुलिस ने महिला की मौत के मामले में मर्ग कायम कर लिया है। मृतका की पहचान सरस्वती अहिरवार (28) के रूप में की गई है। वह सिद्धार्थ इनक्लेव हजरत निजामुद्दीन कालोनी में रहती थी।