JagranMP
JagranMP ePaper
www.jagranmp.com :: 24 January, 2017
खेल
खेल जगत
श्रीलंका में आज से होगा कोहली का टेस्ट
12 August 2015
गाले : विराट कोहली की पांच गेंदबाजों के साथ उतरने की रणनीति की श्रीलंका के खिलाफ बुधवार से प्रारंभ होने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में असली परीक्षा होगी। टीम इंडिया श्रीलंकाई धरती पर 22 वर्षों के टेस्ट सीरीज जीत के सूखे को खत्म करने के इरादे से मैदान संभालेगी। कोहली की टेस्ट कप्तान के रूप में यह पहली पूर्णकालिक सीरीज होगी और वे अपनी आक्रामक नेतृत्व क्षमता के जरिए प्रभावित करने का कोई मौका नहीं छोड़ेंगे। विपक्षी टीम के 20 विकेट हासिल करने के लिए कोहली पांच गेंदबाजों की बदली हुई रणनीति के साथ मैदान में उतरेंगे और देखना होगा कि उनका यह फैसला कितना कारगर साबित होता है। दोनों टीमें इस समय पुन:र्निमाण के दौर से गुजर रही है और कई भारतीय खिलाडिय़ों का श्रीलंका में टेस्ट खेलने का यह पहला मौका होगा। श्रीलंका टीम के साथ भी स्थिति समान है, उसे हाल ही में अपने घर में पाकिस्तान के हाथों तीन प्रारूपों में हार झेलनी पड़ी है और कुमार संगकारा की यह विदाई सीरीज है। इस लिहाज से यह सीरीज महत्वपूर्ण हो गई है और घरेलू टीम की कमजोर स्थिति का लाभ उठाकर कोहली अपनी आक्रामकता के जरिए सीरीज जीतकर नई इबारत लिखना चाहेंगे।
लोकेश राहुल और शिखर धवन करेंगे ओपनिंग टीम के लिए ओपनिंग की जिम्मेदारी अब शिखर धवन और लोकेश राहुल पर होगी। राहुल ने सिडनी में अपने दूसरे टेस्ट में ही 110 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी। मिडिल ऑर्डर की जिम्मेदारी मुख्य तौर पर कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे पर रहेगी। हालांकि, कोहली और रोहित फार्म में नहीं हैं, जो टीम इंडिया के लिए चिंता की बात है। नंबर तीन पर कप्तान कोहली, रोहित शर्मा को खिलाने की जिद कर रहे हैं। यहां तक कि तीसरे नंबर पर अफ्रीका और न्यूजीलैंड में अच्छा प्रदर्शन करने वाले चेतेश्वर पुजारा को बांग्लादेश में टीम से बाहर बिठाए रखा गया था। हालांकि वहां भी रोहित शर्मा ने निराशाजनक प्रदर्शन किया था।
सिर्फ चार ही अनुभवी खिलाड़ी अब तक विदेशी जमीन पर टीम इंडिया का रिकार्ड खराब रहा है। यहां तक कि श्रीलंका तक में हम जीतने के लिए तरसते रहे हैं। ऐसे में विदेशी पिचों पर कम अनुभवी प्लेयर्स का खेलना चिंता की एक और वजह है। मौजूदा टीम इंडिया में मुरली विजय, हरभजन सिंह, इशांत शर्मा और अमित मिश्रा को श्रीलंका में खेलने का अनुभव है। इनमें से भी मुरली विजय पहले मैच से बाहर हो चुके हैं, सो, ऐसे में भारतीय टीम की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।
क्या कहते हैं आंकड़े
दोनों देशों के बीच अब तक 35 टेस्ट मुकाबले हुए हैं, जिनमें से 14 में टीम इंडिया को जीत मिली है, जबकि छह में श्रीलंका जीती है। वहीं, 15 मैच ड्रॉ हुए हैं।
मौसम
पिछले कुछ दिनों से यहां वर्षा हो रही है जिसकी वजह से मैच में भी व्यवधान होने का अनुमान है। वैसे खराब मौसम के बावजूद पिच सूखती जाएगी और इस पर गेंद रूककर आएगी।
श्रीलंका का रिकार्ड अच्छा नहीं
कभी इस मैदान को घरेलू टीम के लिए मजबूत किला माना जाता था, लेकिन पिछले कुछ वर्षों में स्थिति बदल गई है। यहां खेले गए पिछले तीन टेस्ट मैचों में से दो मैचों में श्रीलंका टीम को हार का सामना करना पड़ा है। वैसे टीम इंडिया ने 1993 से श्रीलंका में कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है और उसके टॉप छह खिलाडिय़ों को श्रीलंका में टेस्ट खेलने का अनुभव नहीं है।
हमारी युवा टीम इस सीरीज में खेलने और जीतने के लिए बेताब है। जीत के लिए हमें श्रीलंका टीम के 20 विकेट लेने होंगे, इसलिए हम पांच गेंदबाजों के साथ उतरेंगे। मुरली विजय के चोटिल होने की वजह से फॉर्म में चल रहे
केएल राहुल को उनकी जगह टीम में शामिल किया जाएगा।
- विराट

12-08-2015 सानिया का कटा चालान
12-08-2015 महाराष्ट्र में नहीं होगा विश्वकप में पाकिस्तान का कोई मैच
12-08-2015 धोनी पर भड़का कर्नाटक हाई कोर्ट
12-08-2015 श्रीलंका में आज से होगा कोहली का टेस्ट
12-08-2015 रोहित शर्मा बनेंगे अर्जुन