JagranMP
JagranMP ePaper
www.jagranmp.com :: 24 January, 2017
जागरण विशेष
प्रमुख खबर
मैं इंद्राणी के साथ रहता था, लेकिन उससे मेरी शादी नहीं हुई-सिद्धार्थ दास
01 September 2015

नई दिल्ली। सिद्धार्थ दास ने मंगलवार को खुलासा किया है कि मैं इंद्राणी के साथ रहता था, लेकिन उससे मेरी शादी नहीं हुई है। शीना और मिखाइल मेरे और इंद्राणी के ही बच्चे हैं। उन्होंने पुलिस को जांच में पूरा सहयोग देने का वादा किया है। उनके मुताबिक, इंद्राणी पैसों की लालची थी। वह पैसों के लिए कुछ भी कर सकती है। सिद्धार्थ ने कहा कि शीना की हत्या करने वालों को फांसी हो। हम डीएनए टेस्ट के लिए भी तैयार हैं। कोलकाता निवासी सिद्धार्थ ने कहा कि मैं छोटी कंपनी में नौकरी करके खुश हूं। अभी तक मुंबई पुलिस ने हमसे संपर्क नहीं किया है। उन्होंने शाम चार बजे मीडिया से बात करने को कहा है।

इंद्राणी ने कहा, जिंदा है शीना, अमेरिका में सही-सलामत हैः

शीना बोरा हत्याकांड में मुंबई पुलिस से पूछताछ में इंद्राणी मुखर्जी ने सनसनीखेज खुलासा किया है। सूत्रों के मुताबिक, इंद्राणी ने कहा है कि उसकी बेटी शीना जिंदा है और वह अमेरिका में पूरी तरह सुरक्षित है।

बकौल इंद्राणी, शीना सामने नहीं आ रही है, क्योंकि मैं उससे घृणा करती हूं। सूत्रों के मुताबिक, इंद्राणी कई बार यह बात कह चुकी है।

मामले में पुलिस को अब तक मिली जानकारी के मुताबिक, 24 अगस्त 2012 को इंद्राणी ने अपने पूर्व पति संजीव खन्ना व ड्राइवर के साथ मिलकर शीना की हत्या कर दी थी।

इंद्राणी ने कबूल किया है कि उसने मुंबई में शीना को अपनी बेटी के बजाय बहन बताया, लेकिन उसकी हत्या नहीं की है।

इंद्राणी तीन साल से कह रही है कि शीना अमेरिका में है।

शीना बोरा हत्याकांड की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी को सोमवार को पहली बार अदालत में पेश किया गया था। इंद्राणी पर शीना की हत्या के अलावा बेटे मिखाइल की हत्या के प्रयास की भी दो और दफाएं लगाई गई हैं। मुंबई पुलिस को शक है कि महाराष्ट्र से बाहर के कुछ और लोग इस हत्याकांड में शामिल हो सकते हैं। लिहाजा, मुख्य महानगरीय दंडाधिकारी ने इंद्राणी समेत तीनों आरोपियों की पुलिस हिरासत पांच सितंबर तक बढ़ा दी।

पिछले सप्ताह अपनी बेटी शीना की हत्या के आरोप में गिरफ्तार की गई आइएनएक्स मीडिया की पूर्व सीईओ इंद्राणी मुखर्जी को सोमवार को पहली बार अदालत में पेश किया गया। पुलिस ने इंद्राणी के साथ उसके दूसरे पति संजीव खन्ना व ड्राइवर श्याम राय को भी अदालत में पेश कर तीनों की पुलिस हिरासत बढ़ाने की मांग की। जिसे अदालत ने मंजूर कर लिया।

मुख्य महानगरीय दंडाधिकारी एस.एम.चांदगड़े ने बचाव पक्ष के वकीलों की दलील ठुकराते हुए तीनों आरोपियों की पुलिस हिरासत पांच सितंबर तक बढ़ा दी। पुलिस का तर्क था कि उसे अभी इन तीनों (इंद्राणी, संजीव खन्ना व श्याम राय) से हत्या के कारणों में आर्थिक पक्ष शामिल होने को लेकर पूछताछ करनी है। इसके अलावा उसे शीना का मोबाइल फोन और कपड़े भी बरामद करने हैं। पुलिस के अनुसार उसे इस हत्याकांड में दूसरे राज्यों के कुछ और लोगों के भी शामिल होने का शक है।


01-09-2015 भारत और पाकिस्तान से सीधी बातचीत की अपील
01-09-2015 मैं इंद्राणी के साथ रहता था, लेकिन उससे मेरी शादी नहीं हुई-सिद्धार्थ दास
01-09-2015 मोदी के शासन की तारीफ अब पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में भी
12-08-2015 एशिया की सबसे सुरक्षित तिहाड़ जेल में कैदी की हत्या
05-11-2014 हंगामे के साथ शुरू हुई लाेकसभा में कायर्वाही